सिद्ध क्षेत्र नेमावर (सिद्धोदय)

नाम एवं पता: संबद्धता क्र. 160 

श्री दिगम्बर जैन रेवातट सिद्धोदय सिद्धक्षेत्र, नेमावर

श्री दिगम्बर जैन रेवातट सिद्धोदय सिद्धक्षेत्र, नेमावर

पता: ग्राम – नेमावर,  तहसील – खातेगाँव,

जिला– देवास, (मध्यप्रदेश) पिन – 453339

टेलीफोन नं. 07274-277818, 277991, 277993, 218925 मो. 098265-41550

सिद्धोदय सिद्धक्षेत्र, नेमावर

क्षेत्र का महत्व एवं ऐतिहासिकता

 नेमावर – म.प्र. के पश्चिम भाग में देवास जिले के दक्षिण में नर्मदा नदी के तट पर इन्दौर-नागपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर इन्दौर से 130 कि.मी. दूर स्थित है।प्राचीन रेवा नदी (नर्मदा नदी) के तट पर स्थित सिद्ध क्षेत्र नेमावर एवं इसके आसपास के क्षेत्र में अनादिकाल के अनेक विशालकाय पुरातत्वीय अवशेष मौजूद है। रावण के पुत्र सहित साढ़े पाँच करोड़ मुनिराज इस स्थली से मोक्ष पधारे है। यहाँ नर्मदा नदी से निकली आदिनाथ की प्रतिमा मूल नायक के रूप में विराजित है। साथ ही भूगर्भ से प्राप्त बारह प्रतिमाएँ जिन मन्दिर में विराजमान है।
यहाँ वर्तमान में श्री सिद्धसागरजी ने सल्लेखनापूर्वक समाधि प्राप्त की। लाल पत्थरों से विशाल पंच बालयति मन्दिर एवं त्रिकाल चौबीसी जिनालयों का निर्माण कार्य चल रहा है। इनमें अष्ट धातु की खड्गासन भूत-वर्तमान-भविष्य चौबीसी एवं पंच बालयति की प्रतिमाएँ विराजमान होना है।
नेमावर नर्मदा नदी के मध्य (लम्बाई में) स्थित होने से यहाँ नर्मदा का नाभिकुण्ड भी है।

उपलब्ध सुविधाएं

श्री 1008 दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र

क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ

आवास – फ्लेट – 18$36, हाल – 4(यात्री क्षमता-200), भोजनशाला – उपलब्ध, पुस्तकालय – निर्माणाधीन,  (नेमावर में)।

आवागमन के साधन

रेल्वे स्टेशन – हरदा 22 कि.मी.

बस स्टैण्ड – नेमावर 1 कि.मी., खातेगाँव 14 कि.मी.।

पहुँचने का सरलतम मार्ग – सड़क मार्ग – नेमावर से आॅटो रिक्शा/टैक्सी।

समीपस्थ तीर्थ क्षेत्र

सिद्धवरकूट 160 कि.मी., गोम्मटगिरि – 140 कि.मी., भोजपुर – 165 कि.मी., मक्सी – 160 कि.मी., पुष्पगिरि – 100 कि.मी.।

प्रबन्ध व्यवस्था

श्री दिगम्बर जैन रेवातट सिद्धोदय सिद्धक्षेत्र ट्रस्ट नेमावर

अध्यक्ष    – श्री सुन्दरलाल जैन (बीड़ीवाले), इन्दौर (0731-2530645, 2536765)

कार्याध्यक्ष – श्री पदमकुमार काला, बानापुरा (07570-224655, 225155)

वरिष्ठ उपाध्यक्ष– श्री सुरेशचन्द्र काला, खातेगाँव (07274-232421, 098278-25987)

महामंत्री – श्री बी.एल. जैन, हरदा (07577-223203)

कोषाध्यक्ष – श्री रमेशचन्द काला, खातेगाँव (07274-232713, 232228)

तीर्थक्षेत्र की वेबसाइट
भारतवर्षीय दिगम्बर जैन तीर्थक्षेत्र कमेटी
तीर्थक्षेत्र की वेबसाइट वेबसाइट पर जाएँ
धर्मशाला आरक्षित करें
भारतवर्षीय दिगम्बर जैन तीर्थक्षेत्र कमेटी
धर्मशाला आरक्षित करें आरक्षित करें
तीर्थक्षेत्र के लिए दान करें
भारतवर्षीय दिगम्बर जैन तीर्थक्षेत्र कमेटी
तीर्थक्षेत्र के लिए दान करें दान करें
निकटतम प्रमुख नगर:
खातेगाँव - 14 कि.मी., हरदा - 22 कि.मी., इन्दौर - 130 कि.मी., भोपाल - 150 कि.मी., खण्डवा - 135 कि.मी.।
प्रमुख विशेषताएँ
यहाँ वर्तमान में श्री सिद्धसागरजी ने सल्लेखनापूर्वक समाधि प्राप्त की।

भारतवर्षीय दिगम्बर जैन तीर्थक्षेत्र कमेटी

भारतवर्षीय दिगम्बर जैन तीर्थक्षेत्र कमेटी का इतिहास

देश भर में दूरदूर तक स्थित अपने दिगम्बर जैन तीर्थयों की सेवा-सम्हाल करके उन्हें एक संयोजित व्यवस्था के अंतर्गत लाने के लिए किसी संगठन की आवश्यकता है , यह विचार उन्नीसवीं शताब्दी समाप्त होने के पूर्वसन् 1899 ई. में, मुंबई निवासी दानवीर, जैन कुलभूषण, तीर्थ भक्त, सेठ माणिकचंद हिराचंद जवेरी के मन में सबसे पहले उदित हुआ ।


Leave a Reply

Your email address will not be published.Required fields are marked *